कर्नाटक में शुरू हुआ नया हिजाब विवाद, परीक्षा में बैठने की नहीं मिली अनुमति तो 231 छात्राओं ने किया प्रदर्शन

26
hijab vivad

डेस्क : Karnataka High Court के फैसले के बाद एक बार फिर से हिजाब विवाद बढ़ गया है, बता दें कि दोबारा से करीब 231 मुस्लिम छात्राओं ने परीक्षा देने से इनकार कर दिया है। जब यह सारी छात्राएं पेपर देने आई थी तो कॉलेज ने इनका विरोध किया और कहा कि तुम लोग परीक्षा नहीं दे सकती हो, जिसके चलते छात्राएं धरने पर बैठ गई, इसमें कुछ पुरुषों ने भी उनका जमकर साथ दिया।

बता दें कि हिजाब विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है, मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कॉलेज को हाई कोर्ट की तरफ से सख्त निर्देश दिए गए हैं। कोर्ट ने कहा है कि आदेश का उल्लंघन करने वाला परीक्षा में शामिल नहीं होगा। बता दें कि बीते मंगलवार को शैक्षणिक संस्थानों में राज्य सरकार के आदेश के फैसले को बरकरार रखा गया था। इतना ही नहीं बल्कि हिजाब प्रतिबंध के खिलाफ खड़ी पांच छात्राओं की याचिका को भी कोर्ट ने खारिज कर दिया है।

ज्यादा जानकारी के लिए बता दें कि बंगलुरु से 50 किलोमीटर दूर एक गांव है। इस गांव का नाम उप्पिनंगाडी है बता दें कि इस परीक्षा में जब महिलाएं पहुंची तो उनको कन्नड़ की परीक्षा नहीं देने दी गई थी जिसकी वजह से वह वहीं पर बैठकर धरना देने लगी। बताया जा रहा है कि इलाके में मौजूद मुस्लिम नेताओं ने भी छात्राओं को समझाने की कोशिश की, लेकिन इसके बाद भी कोई छात्रा नहीं मानी। इस वक्त यह मामला सुप्रीम कोर्ट में ले जाने की तैयारी चल रही है। न्यायाधीश एन वी रमन की अगुवाई वाली बेंच ने कहा है कि छात्रों के आगे की परीक्षाएं प्रभावित ना हों जिसके चलते जल्दी से जल्दी इस मामले पर फैसला लिया जाएगा।