नीतीश कुमार द्वारा राजद MLC को डांटने से भड़की राजद, नीतीश कुमार को बताया कमजोर और बेशर्म मुख्यमंत्री…

डेस्क : बिहार में अभी बजट सत्र चल रहा है और सदन से रोज नए नए विवाद सामने आ रहे हैं। आज नीतीश कुमार का गुस्सा राजद नेता सुबोध राय पर भड़क गया और उन्होंने सुबोध राय को डांटते हुए बैठने के लिए कहा। नीतीश कुमार के इस गुस्से को देखकर सदन में सब कोई हैरान रह गया। नीतीश कुमार आज सदन में बहुत ही गुस्सा थें और उन्होंने राजद नेता सुबोध राय को दो से तीन बार डांटते हुए बैठने के लिए कहा।

क्या है पूरा मामला- दरअसल राजद विधायक मोहम्मद फारूक के एक पूरक प्रश्न का जवाब ग्रामीण कार्य विभाग के मंत्री जयंत राज को देना था । लेकिन, मंत्री जयंत राज के पूरक प्रश्न का जवाब देने से पहले ही राजद विधायक सुबोध राय उनसे दूसरा पूरक प्रश्न करने लगे। इस बात पे नीतीश कुमार ने सुबोध राय को टोकते हुए कहा कि पहले प्रश्न का जवाब मिले बिना आपने दूसरा प्रश्न क्यों कर दिया। इसके बाद भी जब सुबोध राय नहीं मानें और बोलते रहे तो नीतीश कुमार का गुस्सा भड़क गया और उन्होंने सुबोध राय को डांटने वाले लहजे में बैठने के लिए कहा।

नीतीश कुमार ने सुबोध राय के रवैये पे आपत्ति जताते हुए सभापति रामचंद्र पूर्वे से उन्हें नियम समझाने के लिए कहा। लेकिन नीतीश कुमार के सभापति से बात करने के दौरान भी सुबोध राय कुछ कुछ बोलते रहें। इसके बाद नीतीश कुमार का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुँच गया और उन्होंने सुबोध राय को फिर एक बार डांटते हुए बैठने के लिए कहा। नीतीश कुमार का गुस्सा देखकर आज सभी हतप्रभ थे।

राजद ने साधा नीतीश कुमार पर निशाना- अपने एमएलसी सुबोध राय को इस तरह से डांटे जाने पर राजद भी एकदम गुस्से में आ गई। राष्ट्रीय जनता दल के आधिकारिक टि्वटर एकाउंट से ट्वीट करते हुए कहा गया कि “कुर्सी के लिए बीजेपी के तलवे चाट रहे बेचारे कमजोर, रीढ़विहीन और बेशर्म मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी को कोई तार्किक और तथ्यात्मक जवाब नहीं सुझता तो आग बबूला हो जाते है। ग़ुस्सा आना उनकी कमजोरी की निशानी है। और खींचो नरेन्द्र मोदी जी की थाली। सीएम साहब अभी आपका बुरा समय आना बाक़ी है।” इस मामलें में राजद के तेवर को देखते हुए लगता है कि यह विवाद अभी खत्म नहीं होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.