आम लोगों की बल्ले बल्ले! अब और सस्ते मिलेंगे ईंट-सरिया, जानें – मार्केट का ताजा रेट..

डेस्क : यदि आप घर बनाने का सपना देख रहे हैं तो यह बिल्कुल सही समय है। आजकल भवन निर्माण में इस्तेमाल होने वाली चीजों का भाव कम है लेकिन यह अधिक दिनों तक नहीं रहने वाली है। बारिश के शुरू होते ही एक और रेत आदि के दाम में बढ़ोतरी हो जाएगी। पहले से ही सरिया महंगा होने लगा है और इसी महीने इसके रेट कुछ जगहों पर 4000 रुपए टन के ऊपर चढ़े हैं।

अप्रैल के महीने में भवन निर्माण सामग्रियों की कीमत अपने चरम पर थी। फिर सरिया सीमेंट जैसी सामग्रियों की कीमत में कमी आई। इस महीने के पहले हफ्ते तक सरिया की कीमत में लगातार गिरावट देखने को मिली। ऐसे में बाजार से इसकी डिमांड बढ़ रही है। ट्रेडर्स के गिरते भाव के चलते फायदा उठाते हुए लोगों ने भवन निर्माण का कार्य शुरू कर दिया है। जिससे बाजार में सरिया आदि की मांग बढ़ने लगी है। इन सामग्रियों के दाम बढ़ाए जाने के पीछे मानसून भी एक कारण है।

बारिश के बाद नदियां पानी से घर जाती है जिससे बालू की किल्लत होने लगती है। साथ ही बारिश के चलते ईंट पत्थर का काम भी प्रभावित होता है तो ऐसे में जाहिर है कि इन सामग्रियों के दाम बढ़ेंगे। दो-तीन महीने पहले की तुलना में सरिया अभी आधा है। मार्च के महीने में कुछ जगहों पर इसका भाव ₹85000 टन तक पहुंच गया था।

शहर के हिसाब से यह 47,200 रुपए से लेकर 58,000 रुपए प्रति टन तक के भाव में मिल रहा है। वही इस महीने के पहले सप्ताह में यह कई जगहों पर कम होकर लगभग ₹44,000 प्रति टन तक आ गया था। लोकल ही नहीं ब्रांडेड सरिए का भाव भी कम हुआ था। आपको बता दें कि ayronmart वेब साइट सरिया की बढ़ती -घटती कीमतों पर नज़र रखती है और उसी आधार पर कीमतों को अपडेट करती है। इसके जरिए यह भी पता किया जा सकता है कि जून के महीने में कुछ शहरों में पहले सप्ताह की तुलना में सरिये के भाव में कितनी बढ़ोत्तरी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.