राजधानी द‍िल्‍ली मे घर के पास मिलेगा मेट्रो -बस और ई रिक्शा -इतने दिन करना होगा इंतजार

डीएमआरसी के प्रबंध निदेशक विकास कुमार ने कहा कि दिल्ली के विभिन्न स्टेशनों से 663 ई-आटो के परिचालन की शुरुआत की जाएगी। इसके अलावा 46 इलेक्टिक फीडर बसें जल्द आने वाली हैं। मेट्रो में सफर करने वाले यात्री सड़क पर एसी फीडर बसों में ज्यादा सफर नहीं करते। इस वजह से फीडर बसें घाटे में चल रही हैं। 100 इलेक्टिक मेट्रो फीडर बसों को दिल्ली मेट्रो रेल निगम फीडर बसें नहीं खरीदेगा।

मौजूदा समय में डीएमआरसी 56 इलेक्टिक फीडर बसों का परिचालन कर रहा है। ये फीडर बसें चार रूटों पर चल रही हैं, जो कश्मीरी गेट, शास्त्री पार्क, ईस्ट विनोद नगर, दिलशाद गार्डन, जीटीबी नगर, गोकलपुरी, लक्ष्मी नगर, आनंद विहार व विश्वविद्यालय स्टेशनों से उपलब्ध होती हैं। इसके अलावा 46 इलेक्टिक फीडर बसें जल्द आने वाली हैं। मौजूदा फीडर बसों में क्षमता से 50 प्रतिशत कम यात्री सफर करते हैं। इन फीडर बसों का इस्तेमाल फीडर सेवा के अलावा सिटी बस सेवा के रूप में हो सकेगा।

डीएमआरसी ई-रिक्शा का इस्तेमाल अधिक करना चाहता है। ई-रिक्शा दिल्ली में कई जगहों पर प्रतिबंधित हैं। डीएमआरसी ने हाल ही में ई-आटो को स्वीकृति दी है। ई-रिक्शा: 30 स्टेशनों पर 295 ई-रिक्शा उपलब्ध हैं।

किराया: शुरुआती पांच किलोमीटर के लिए 10 रुपये। इसके बाद प्रति किलोमीटर पांच रुपये अतिरिक्त शुल्क।

ई-स्कूटर: विश्वविद्यालय, मंडी हाउस, नेहरू एन्क्लेव, आइआइटी व कश्मीरी गेट स्टेशन पर 30 ई-स्कूटर उपलब्ध हैं।

शेयरिंग साइकिल: 11 स्टेशनों पर 994 साइकिल उपलब्ध हैं, शुरुआती दो घंटे के लिए 10 रुपये किराया निर्धारित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *