पटना एयरपोर्ट जल्द होगा प्राइवेट, पैसेंजर ट्रेन के अलावे 7 सड़कें भी जाएंगी निजी हाथों में

privitized airport

डेस्क : इस वक्त देश में निजीकरण तेजी से पैर पसारता जा रहा है, बता दें कि भारत ने निजीकरण को 1991 के बाद से अर्थव्यवस्था में शामिल किया था। भारत का हर प्रधानमंत्री निजीकरण को अपने तरीके से देखता है। हाल ही में खबर आ रही है कि बिहार के पटना एयरपोर्ट का निजीकरण किया जाएगा। ऐसे में कई लोगों की नौकरी पर खतरा मंडरा रहा है, इतना ही नहीं बल्कि पटना एयरपोर्ट को जोड़ने वाली 7 हाइवे-रोड का भी निजीकरण किया जाएगा।

पटना एयरपोर्ट जल्द प्राइवेट हाथों में जाने वाला है, वहीं दूसरी तरफ पटना में प्राइवेट पैसेंजर ट्रेन भी चलाई जाएंगी। केंद्र सरकार की तरफ से 13 सरकारी संपत्तियों को बेचने के प्रावधान पर मुहर लगा दी गई है।

ज्यादा जानकारी के लिए बता दें कि निर्मला सीतारमण द्वारा 2022 के बजट की घोषणा के दौरान यह कहा गया था कि सरकार निजीकरण की ओर ध्यान दे रही है। सरकार अपनी संपत्ति की कुछ हिस्सेदारी बेचकर आने वाले सालों में जनता की लिए पैसा जुटाएगी। बता दें कि इस बार सरकार 6 लाख करोड़ रुपए जुटाने की कोशिश कर रही है, ज्यादा जानकारी के लिए बता दें कि पटना एयरपोर्ट 2023 तक प्राइवेटाइज्ड हो जाएगा।

पटना एयरपोर्ट सहित भारत सरकार कुल 25 एयरपोर्ट निजी हाथों में देने जा रही है। ऐसे में पटना एयरपोर्ट के निजी हाथों में जाते ही केंद्र सरकार की जेब में हजार करोड़ रुपए आ जाएंगे। इस वर्ष सरकार का टारगेट है कि वह पटना एयरपोर्ट का निजीकरण कर दें। ज्यादा जानकारी के लिए बता दें कि पटना में 7 सड़कों का भी संचालन अब निजी हाथों में चला जाएगा ऐसे में पूर्णिया-दालकोला, मुजफ्फरपुर-सोनबरसा, बाराचट्टी-गोरहर, खगड़िया-पूर्णिया, हाजीपुर- मुजफ्फरपुर, मोकामा -मुंगेर की सड़कें शामिल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Divya Aggarwal ने जीता BigBossOTT-जानें ट्रॉफी के साथ कितना मिला कैश ? Jio अब बजट रेंज में लॉन्च करेगा लैपटॉप, ये होंगे कीमत और Features Airtel vs Vi vs Jio : जानें 600 रुपये से कम वाला किसका रिचार्ज प्‍लान सबसे बेस्‍ट शर्दी को दूर रखना चाहते है तो इन 5 Room Heaters के बारे में जरूर पढ़ें इसी साल रिलीज होंगी ये 5 धमाकेदार वेब सीरीज