बिहार के इन तीन शहरों में बनने जा रहा है शानदार तारामंडल, जानिए विशेषताएं

न्यूज़ डेस्क: किसी भी शहर में तारामंडल का होना काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। विद्यार्थियों के अपने शहर में इसकी सुविधा होगी तो उन्होंने खगोलीय दुनिया के बारे में जानने, वहॉं की गतिविधियों को सामने से देखने के लिए उन्हें दूर तक का सफर नहीं करना पड़ेगा। दरअसल, अभी बिहार में मात्र एक तारामंडल राजधानी पटना में है। प्रदेश में केवल एक होने से पटना के बाहर राज्य के किसी अन्य सहर के बच्चों का तारामंडल से भेंट तक नहीं हुआ रहता है। ऐसे में अब बहुत जल्द राज्य के और 3 जिलों में तारामंडल का निर्माण जल्द ही पूरा किया जाएगा।

आपको बता दे की अब इन इलाकों के लोग आसानी तारामंडल से ज्ञान अर्जित कर सकेंगे। यह गया और भागलपुर मे बनाया जा रहा है। अब इन क्षेत्रों के लोगों को खगोलीय गतिविधियों को देखने के लिए पटना तक का दूरी नहीं तय करना पड़ेगा। वहीं राज्य के मुजफ्फपुर में भी एक तारामंडल व स्पेस रिसर्च सेंटर बनाए जाने वाले हैं। इन सभी तारा मंडल को तौयार कर देने का लक्ष्य इसी वर्ष यानी 2022 के अंत तक रखा गया है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक तारामंडल को स्थापित करने के लिए जगह चुनने हेतु दिल्ली के स्पेस टीम से संबंधित विषेशज्ञों को आमंत्रित किया गया। वे लोग जून के महीने में मुजफ्फरपुर आने पर सहमति दी। मालूम को रिसर्च सेंटर की स्थापना के लिए जगह देख लिए जाने के बाद पीपीपी मोड पर तारामंडल एवं स्पेस रिसर्च सेंटर का निर्माण कार्य आरंभ हो जाएगा। यह स्पेस रिसर्च सेंटर 5 करोड़ के लागत से बनाएं जाएंगे।

वहीं गया और भागलपुर में तारामंडल का निर्माण कार्य पहले से चालू है। विभागीय अधिकारियों की माने तो इस साल के बीच में ही यह बनकर तैयार हो जाएगा। यह तैयार हो जाने के बाद यहां के आसपास के सैकड़ों गांव के विज्ञान में रुचि रखने वाले छात्र-छात्राओं को काफी लाभ मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.