Bihar में रद्द किए जा रहे है Ration Card, कहीं इसमें आपका नाम तो नहीं है शामिल..

डेस्क : फर्जी राशन कार्ड को लेकर बिहार सरकार ने अपात्र लोगों के फर्जी राशन कार्डों की जांच के आदेश दिए हैं। सरकार के निर्देश में कहा गया है कि राज्य में उन सभी लोगों के राशन कार्ड की जांच की जाएगी, जो राशन योजना के लिए मान्य नहीं है. जांच में अपात्र पाए जाने के बाद उन सभी लोगों के खिलाफ तुरंत कार्रवाई करते हुए राशन कार्ड रद्द किए जाएंगे. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जिन लोगों के पास चार पहिया वाहन है, एसी लगा हुआ है, लाइसेंसी हथियार है, जो सरकारी नौकरी करते हैं, जिनके घर में कोई टैक्स पेयर है, जिनके पास ढ़ाई एकड़ से ज्यादा जमीन है और जिनकी सैलरी 10 हजार रुपये या उससे ज्यादा है, ऐसे सभी लोगों के राशन कार्ड रद्द किए जाएंगे.

इतना ही नहीं यहां तक कि सरकार ने यह भी कहा है कि जो लोग सरकारी विभागों में कॉन्ट्रैक्ट पर काम करते हैं और अपात्र हैं, उनके राशन कार्ड भी रद्द किए जाएंगे. अपात्र होने के बावजूद राशन कार्ड का लाभ ले रहे लोगों के खिलाफ विभाग सख्त कार्रवाई कर सकता है। पूरे जिले में यह अभियान चलाकर अब तक 1824 अपात्र राशन कार्ड रद्द किए जा चुके हैैं। इसमें 1083 ऐसे परिवार भी शामिल हैं जिन्होंने विभागीय चेतावनी के बाद अपना राशन कार्ड जमा किया है। हालांकि 342 राशन कार्ड अब भी रद्द करने की प्रक्रिया में है। 

गौरतलब है कि विभागीय आंकड़ों की मानें तो पिछले कई सालों से पूरे जिले में हर महीने 1824 परिवार के 6640 ऐसे लोगों को राशन दिया जा रहा था जो कहीं से भी इसके योग्य नहीं है। इसमें कई ऐसे परिवार भी शामिल थे जिसके घर में एक या इससे अधिक लोगों के पास सरकारी नौकरी थी। हालांकि इस समय कार्ड जमा कर देने के कारण वह सभी कार्रवाई के घेरे से बाहर है। विभागीय अधिकारियों के मुताबिक जांच अभियान समाप्ति के बाद सभी अपात्र लाभुकों को योजना से बाहर कर दिया जाएगा। इसके बाद ऐसे लोगों को ही योजना का लाभ मिलेगा जो योजना के नियमों को मानेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.