अच्छी खबर! बिहार भूमि सर्वेक्षण के लिए 10,000 पदों पर होगी भर्ती, जानें – योगिता और सैलरी..

डेस्क : नौकरी की तलाश कर रहे बिहार वासियों के लिए अच्छी खबर है। प्रदेश में भूमि संरक्षण को लेकर 10 हजार पदों पर भर्ती की जाएगी। इन सभी पदों पर संविदा आधारित बहाली होगी। बता दें कि 2023 के फरवरी महीने तक बहाली की प्रक्रिया संपन्न कर ली जाएगी। बीते मंगलवार को राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री आलोक कुमार मेहता ने यह जानकारी दी।

इस संबंध में जल्द ही विज्ञापन जारी की जायेगी। बता दें कि शास्त्री नगर स्थित सर्वे प्रशिक्षण संस्थान में एक मासिक बैठक हुई। इस बैठक में भूमि संरक्षण से जुड़े सभी बिंदुओं पर चर्चा किया गया।

विभाग के अपर मुख्य सचिव ब्रजेश मेहरोत्रा ​​ने कहा कि एक सप्ताह के भीतर शुरू होने वाली बहाली प्रक्रिया के तहत 8200 पद अमीन के ही होंगे। इसके अलावा शेष पद विशेष सर्वेक्षण सहायक बंदोबस्त अधिकारी, कानूनगो और लिपिक के लिए रखे गए हैं। उनकी बहाली के बाद फरवरी माह में उन्हें प्रशिक्षण देकर बिहार के सभी 38 जिलों में तैनात किया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि सर्वे के तुरंत बाद चकबंदी का काम पूरा करने की योजना है। चकबंदी का कार्य भी इन्हीं कर्मियों द्वारा किया जाएगा।

राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग के अपर मुख्य सचिव ब्रजेश मेहरोत्रा ने कहा कि प्रदेश में फरवरी 2023 से भूमि सर्वेक्षण का काम शुरू हो जाएगा। भूमि सर्वेक्षण का काम अगले दो साल में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। 20 जिलों में चल रहे भूमि सर्वेक्षण कार्य को पूरा करने के लिए बंदोबस्त अधिकारियों को कई आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *