लालू यादव के जेल जाने के बाद काफी गुस्से में है RJD! अब जनता के सामने नीतीश के घोटाले को गिनाएगी पार्टी..

9
RJD Party

डेस्क : बिहार की सियासी इस वक्त गरम है, क्योंकि आरजेडी के मुखिया लालू प्रसाद यादव को डोरंडा मामले में सजा एलान होने के बाद अलग-अलग राजनेताओं का बयान आने लगा? कोई सही बताया तो कोई हमदर्दी दिखाया? ऐसे में बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने भी इस मुद्दे पर अपना बयान बयान दे ही दिया है, जिसके बाद से आरजेडी में खलबली मची हुई है।

सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) का बड़ा बयान आया कि जिन्होंने लालू यादव को जेल भिजवाया वे लोग आरजेड़ी के साथ ही हैं, इसके बाद से आरजेड़ी का गुस्सा भड़का हुआ है, वहीं, आरजेडी विधानसभा के बजट सत्र में नीतीश कुमार के घोटालों को गिनाने की तैयारी में जुट रही है। वहीं इस मामले में आरजेडी के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि सृजन से लेकर शौचालय तक 80 घोटाले नीतीश कुमार की सरकार में हुए हैं, हालांकि पूरे प्रदेश में ऐसा कोई भी क्षेत्र ऐसा नहीं जहां बिहार की डबल इंजन की सरकार में घोटाला नहीं हुआ है।

आगे उन्होंने कहा कि इस मुद्दे को लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव भी लगातार विधानसभा सत्र में सवाल उठाते आ रहे हैं? ऐसे में बीजेपी के विधायक ज्ञानेन्द्र ज्ञानू ने बिहार की अफसरशाही का भी बड़ा आरोप लगाया, वहीं, बीजेपी के अन्य नेता सुरेश शर्मा ने बीजेपी कोटा से मंत्री रामसूरत राय पर भू माफिया से मिलीभगत होने का आरोप लगाया।

वही इस मुद्दे को लेकर आरजेडी विधायक सुधाकर सिंह ने कहा कि बिहार सरकार के इन बड़े घोटाले की जांच कहां विधान सभा की कमेटी करती है? जब से विधान सभा आया हु तब से देख रहा हूं कि आज तक कहां कोई निष्पक्ष जांच हुई, उन्होंने ये भी कहा कि सत्ता पक्ष के संजय सरावगी ने कहा कि घोटाला करने वाले पर सस्पेंशन नहीं हुआ, इस दौरान सत्ता में उहदे पद पर बैठे लोग कहां चाहते हैं कि कोई जांच हो। उन्होंने कहा कि सृजन कांड में देख लें तो करीब 3 हजार के घोटाले में एक भी क्लास वन अधिकारी जेल नहीं गया। इसके अलावा कोई नेता भी जेल नहीं गया।