RJD सुप्रीमो लालू यादव की निगरानी कर रहे सिपाहियों ने किया घोटाला, रिम्स अस्पताल का तकिया-गद्दी नहीं मिला वापस

डेस्क : चारा घोटाले में सजायुक्त लालू यादव काफी समय से सजा काट रहे हैं। कई बार उन्होंने अर्जी डाली है कि उनको सजा से मुक्त किया जाए, लेकिन उनकी सजा पूरी नहीं हुई है जिस कारण लालू परिवार को शांति नहीं मिल रही है। बीते कुछ समय से उनका परिवार गुहार लगा रहा है कि लालू यादव को छोड़ दिया जाए लेकिन भारत की कानूनी प्रक्रिया इतनी सशक्त है कि वह चाहे छोटे से छोटा अपराधी हो या बड़े से बड़ा अपराधी उसको यूं ही नहीं छोड़ सकती।

ऐसे में अब एक अजीबोगरीब खबर सामने आ रही है, जहां पर लालू यादव की सुरक्षा के लिए जो पुलिसकर्मी तैनात किए गए थे उन पर आरोप लग रहे हैं और बताया जा रहा है कि रिम्स अस्पताल का गद्दा और तकिया सिपाही लेकर जा चुके हैं। ऐसे में रिम्स अस्पताल के प्रबंधन का कहना है कि इस वजह से उन पर आर्थिक संकट आ गया है और यह एक चिंताजनक विषय है। साथ ही रिम्स प्रबंधन ने आदेश दिया है कि 24 घंटे के भीतर उनको यह जानकारी प्राप्त हो जानी चाहिए कि आखिर अस्पताल का तकिया और गद्दा कौन लेकर गया है।

अगर आदेश का पालन नहीं होगा तो सभी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि लालू यादव जिस बंगले में रह रहे थे, वही उनका इलाज भी हो रहा था। उनकी सुरक्षा के लिए 10 पुलिसवाले तैनात किए गए थे। सबको वही रहना होता था वहीँ उठना होता था वही सोना होता था इन सबके लिए गद्दा कंबल रजाई तकिया का इंतजाम किया गया था। लेकिन यह सारी चीजें अब अस्पताल से गायब हो चुकी हैं। जब से यह मामला सामने आया है तब से लालू यादव को पेइंग वार्ड में भेज दिया गया है। एम्स अस्पताल के प्रबंधन ने सिपाहियों से गुहार लगाई है कि उन्हें तकिया-गद्दा वापस कर दें, इसके लिए अब एसएसपी से पत्र लिखकर इस मामले पर जानकारी मांगी जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.