मिलिए देश की सबसे छोटे कद की वकील से, कभी समाज के लोग बनाते थे मजाक…अब ठोकते हैं सलाम!

18
small judge

डेस्क : आप सभी ने वो गाना तो सुना ही होगा कि ‘किसी को कभी मुकम्मल जगह नहीं मिलती…’ लेकिन कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो अपनी मेहनत के दम पर कामयाबी हासिल कर अपने सपने पूरे करते हैं। ऐसी ही एक कहानी है पंजाब के जालंधर शहर की अदालत में वकील हरविंदर कौर की। हरविंदर कौर जिसे रूबी के नाम से भी जाना जाता है, बहुत लोकप्रिय है।

उन्होंने अपने जीवन में सभी परेशानियों का सामना कर सफलता की ऊंचाइयों को छुआ है और अपनी एक अलग पहचान बनाई है, तो आइए जानते हैं हरविंदर कौर की पूरी कहानी के बारे में। जानकारी के लिए बता दें की 24 साल के हरविंदर सफलता के मामले में किसी से पीछे नहीं हैं, लेकिन उनकी हाइट बहुत कम होने के कारण लोग उन्हें ताना मारते थे। रूबी की हाइट सिर्फ 3 फीट 11 इंच है लेकिन उसने कभी भी अपनी हाइट को अपनी सफलता के आड़े नहीं आने दिया। जानकारी के लिए बता दें कि 24 साल की रूबी भारत की सबसे छोटी एडवोकेट हैं। एक समय था जब लोग उन्हें ताना मारा करते थे। आज रूबी न सिर्फ लोगों को न्याय दिलाने के लिए कोर्ट में केस लड़ती है, बल्कि अपने जैसे लोगों के लिए प्रेरणा बनकर भी उभरी है।

एयर होस्टेस बनने का सपना : मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक हरविंदर कौर का सपना एयर होस्टेस बनने का था, लेकिन हाइट कम होने के कारण उनका सपना साकार नहीं हो सका. एक इंटरव्यू के दौरान रूबी ने यह भी खुलासा किया कि वह को का किरदार निभाना चाहती थीं, लेकिन कम हाइट के कारण वह ऐसा भी नहीं कर पाईं। जब उसकी हाइट नहीं बढ़ रही थी तो घरवालों ने उसे कई डॉक्टरों को दिखाया, दवा दिलवाई, योग कराया, लेकिन इससे भी कोई फर्क नहीं पड़ा। उन्होंने अपनी हाइट बढ़ाने के लिए कई प्रयास किए, लेकिन नतीजा यह हुआ कि लोग उनके छोटे कद के कारण उनका मजाक बनाने लगे। जिससे उसके मन में आत्महत्या करने के विचार भी आने लगे।

मैं अब एक वकील हूं लेकिन मेरा सपना जज बनने का है। : हरविंदर कौर ने एयर होस्टेस बनने का सपना छोड़ दिया, लेकिन अपनी पहचान बनाने की जिद से वह पीछे नहीं हटीं। 12वीं तक पढ़ाई करने के बाद उन्होंने कानून की पढ़ाई शुरू की और आज वह एक वकील के रूप में काम कर रही हैं। लेकिन अब उनका सपना जज बनने का है और इसके लिए वह दिन-रात मेहनत कर रही हैं।

कोर्ट में बना मजाक : रूबी इस समय जालंधर के दरबार में वकील हैं, लेकिन उनके लिए यह सफर तय करना आसान नहीं था। वे लोगों के छोटे कद का मजाक उड़ाते थे, वह सड़क कहीं निकल जाती थी, जो लड़की लोगों को जानती थी, वह उन्हें समझती थी। कई बार कोर्ट रूम में भी पाठक ने उनसे पूछा कि वकील की पोशाक पहनकर लड़की को क्यों लाए हो। इसके बाद उनके वकील साथियों को बताना पड़ा कि वह वकील हैं। हरविंदर कौर एक वकील के साथ-साथ एक मोटिवेशनल स्पीकर भी हैं।