जज़्बे को सलाम! सिंगल मदर ने आइसक्रीम और शिकंजी का ठेला लगाकर की पढ़ाई – आज बनी इंस्पेक्टर

Annie sub inspector

डेस्क : इंसान की मेहनत एक ना एक दिन जरूर रंग लाती है। कोई भी व्यक्ति यदि सतत परिश्रम करता रहे तो उसके जीवन में एक न एक समय पर भरपूर स्पष्टता आती है। बता दें कि कुछ इसी प्रकार की स्पष्टता केरला की एनी को मिली है जो इस वक्त वरकला (केरला) पुलिस स्टेशन के सब इंस्पेक्टर बन गई हैं।

बता दें कि जब वह 21 वर्ष की थी तो उनका एक 8 महीने का बच्चा था। लेकिन जीवन के इस मोड़ पर उनके घर वालों ने साथ नहीं दिया और अपनी आजीविका चलाने के लिए उन्होंने घर-घर जाकर इंश्योरेंस बेचा, अनेकों प्रकार की नौकरियां की और फिर त्योहारों पर आइसक्रीम और शिकंजी का ठेला लगाया। इस वक्त उनकी उम्र 31 वर्ष है और उनके सपने सच हो गए है।

जब वह 21 वर्ष की थी, तो उन्होंने अपने मनपसंद के लड़के से शादी की थी, जिसके चलते उनके मां-बाप ने उनको घर से निकाल दिया था। इसके बाद वह अपने दादा-दादी के साथ रहने लगी थी। दादा-दादी के साथ रहते हुए उन्होंने अपनी पढ़ाई लिखाई से समझौता नहीं किया और बची हुई पढ़ाई डिस्टेंस लर्निंग के माध्यम से पूरी की। जब उनको पैसे जमा करने की जरूरत महसूस हुई तो उन्होंने इंश्योरेंस बेचने का कार्य शुरू किया, हालांकि उससे उनको किसी प्रकार की सफलता नहीं मिली जिसके बाद किसी ने उनको बताया कि शिकंजी और आइसक्रीम का ठेला अगर टूरिस्ट प्लेस पर लगाया जाए तो काफी कमाई हो सकती है। ऐसे में उन्होंने वह भी कार्य किया।

जब वह अलग से अपना मकान किराए पर लेने की खोजबीन कर रही थी तब उनको काफी परेशानी आई। वह एक सिंगल मदर थी और लोग उनको अलग नजर से देखते थे, यह बात उनको पसंद नहीं आती थी जिसके चलते उन्होंने बॉयकट हेयर स्टाइल रख लिया। ऐसे में लोगों ने उनकी तरफ देखना भी बंद कर दिया। बता दें कि पुलिस की तैयारी में वे 2016 से लग गई थी, पुलिस की नौकरी की जानकारी उनके परिवार के सदस्य ने दी थी।

फिलहाल उन्होंने अपने डेढ़ साल की पुलिस की ट्रेनिंग पूरी कर ली है। एनी अब एक प्रोबेशनरी पुलिस सब इंस्पेक्टर बन चुकी हैं। एनी बताती हैं कि उनके पिताजी चाहते थे की वह एक आईपीएस अफसर बने। उन्होंने खूब मन लगाकर पढ़ाई की आखिर में उन्होंने बताया कि हम तब तक नहीं हारते जब तक हम खुद से यह तय नहीं कर लेते कि हम हार गए हैं। उन्होंने अपनी सफलता की कहानी फेसबुक पर डाली है। फिल्म सितारों ने उनको ढेर सारी शुभकामनाएं दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

UPSC टॉपर शुभम की कहानी, 6 साल की उम्र में घर छोड़ा, 12वीं में देखा था IAS बनने का सपना मिलिए जागृति से,जानिए कैसे बनीं वो UPSC के महिला वर्ग में देशभर की टॉपर Divya Aggarwal ने जीता BigBossOTT-जानें ट्रॉफी के साथ कितना मिला कैश ? Jio अब बजट रेंज में लॉन्च करेगा लैपटॉप, ये होंगे कीमत और Features Airtel vs Vi vs Jio : जानें 600 रुपये से कम वाला किसका रिचार्ज प्‍लान सबसे बेस्‍ट