मौत के केस में फंसे Shahrukh Khan, परिवार ने घसीटा कोर्ट में बोले “मैं माफ़ी मांग लेता हूँ” – जानें मामला

16
shahrukh khan raees promotion

डेस्क : एक समय पर शाहरुख़ खान(Shahrukh Khan) बुकिंग ना होने के बावजूद प्रमोशन के लिए वड़ोदरा रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 6 पर पहुंचे थे। जब ट्रेन रुकी तो वहां पर भारी भीड़ इकट्ठा हो गई। प्रमोशन के दौरान शाहरूख ने लोगों के बीच टी-शर्ट और खेलने वाली बॉल बांटी थी।

शाहरुख़ को देखने के लिए वहां बड़े स्तर पे भगदड़ मच गई थी और पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा था। भीड़ इतनी ज्यादा थी कि दो पुलिस वाले बेहोश हो गए और इसी दौरान भीड़ में एक शख्स अपने बच्चों और बीवी के साथ शाहरुख़ को देखने के लिए पहुंचा हुआ था। इस दौरान उस शख्स की हार्ट अटैक से मौत हो गई। उसी शख्स के परिवार वालों ने वड़ोदरा की निचली अदालत में शाहरुख खान के खिलाफ कई शिकायतें की थी।

shahrukh khan

इस शिकायत को रद्द कराने के लिए शाहरुख ने गुजरात हाईकोर्ट में याचिका भी दायर की। शिकायतों को रद्द कराने वाली याचिका पर सुनवाई हुई है, जिसमें शाहरुख के वकील ने कहा है कि शाहरुख ने कोई अपराध नहीं किया है, जिस शख्स की मौत हुई है वह पहले से ही दिल का मरीज था और उसकी मौत किसी और वजह से हुई है। सुनवाई के दौरान जज ने मरने वाले शख्स के परिवार वालों से पूछा कि क्या अगर शाहरुख खान सबके सामने उनसे माफी मांगते हैं तो वह क्या इस मामले को खत्म कर देंगे। अब इस मामले की सुनवाई 24 फरवरी को होगी लेकिन यह मामला और ज्यादा पेचीदा हो गया है क्योंकि एक तरफ शाहरुख का कहना है कि उन्होंने कोई गलती नहीं की है, वहीं दूसरी तरफ के परिवार वालों का कहना है कि मौत की वजह शाहरुख़ खान है।

shahrukh khan 2

स्टार शाहरुख़ खान अभी आर्यन खान के मामले से उभरे भी नहीं थे की एक बार फिर से उनको कोर्ट में घसीट लिया गया है लेकिन इस बार यह पूरा मामला 2017 में हुई एक मौत से जुड़ा है। शाहरुख खान अपनी फिल्म रईस का प्रमोशन करने गुजरात के वडोदरा रेलवे स्टेशन पहुंचे थे। तब शाहरुख ने मुंबई से दिल्ली तक अगस्त क्रांति एक्सप्रेस से यात्रा की थी। जहां-जहां ट्रेन का स्टॉप होता था वहाँ शाहरुख प्रमोशन करने लगते थे। शाहरुख पर आरोप है कि ट्रेन के कोच नंबर 4 में बुकिंग ना होने के बावजूद उन्होंने प्रमोशन किया और लोगों की भीड़ लगी जो अनियंत्रित हो गई थी।