FIR लिखवाने में किसी भी तरह की टालमटोल नहीं कर पाएंगे थानेदार, अगर ऐसा किया तो SP से होगा सामना

FIR in bihar for change in procedure

डेस्क : पुलिस व्यवस्था को सुधारने के लिए सरकार नए कार्य कर रही है। ऐसे में पुलिस की यह जिम्मेदारी होती है कि नागरिकों के लिए वह सुरक्षा प्रदान करें और नागरिकों को कोई भी समस्या आए तो उसको बेझिझक थाने में आकर कहे। कई मामलों में ऐसा देखा गया है कि पुलिस वाले आनाकानी करते हैं कोई भी मामला हो उसमें थानेदार लापरवाही बरतते हैं और रपट नहीं लिखते। कभी अपने हिसाब से रपट बनवाकर भी लिखवा देते हैं जिससे आम जनता को काफी परेशानी होती है।

लेकिन अब ऐसे थानेदारों की खबर लेने के लिए शिकायतकर्ता सीधा एसपी के दफ्तर जा सकते हैं। बता दें कि एसपी के दफ्तर में डीएसपी भी मौजूद रहेंगे जो निष्पक्ष शिकायत सुनेंगे और वह थानेदार जो अपना कार्य सही से नहीं कर रहे हैं और शिकायत दर्ज नहीं कर रहे हैं, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करेंगे। बता दें कि यह समस्या दशकों से चली आ रही है अगर पहले ही ऐसे मामलों के लिए कानून बना दिए जाएं तो बेहद अच्छा होता और लोगों को परेशानी नहीं होती। देर से ही सही व्यवस्था में बदलाव लाने से लोगों को उम्मीद है कि अब कानूनी प्रक्रिया और निष्पक्ष हो जाएगी।

इस व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने के लिए सेंट्रल इन्वेस्टिगेशन रूम तैयार किया गया है जिसके तहत समय सीमा के भीतर रहते हुए सारे काम निपटा लिए जाएंगे और सारी शिकायतों पर कार्य किया जाएगा। अगर शिकायतों पर कार्य नहीं किया जा रहा है तो सीधा शिकायत एसपी और डीएसपी को भेजी जाएगी और यह कार्य शिकायतकर्ता खुद कर सकते हैं। फिलहाल यह सुविधा पटना में शुरू हुई है और जल्द ही अन्य जिलों में भी पहुंच जाएगी। इस कार्य को कोविड-19 से पहले किया जाना था। लेकिन, महामारी के चलते यह कार्य नहीं हो पाया और अब दोबारा से इस कार्य पर ध्यान देना अधिकारियों ने शुरू कर दिया है, किसी भी तरह की टालमटोल अब कार्य में नहीं दिखेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *