अब बिहार से दिल्ली की दूरी होगी कम – जानिये किन जिलों से गुजरेगी सिलीगुड़ी- गोरखपुर एक्सप्रेस वे..

डेस्क : देश के तीन बड़े राज्यों को आपस में जोड़ने के लिए केंद्र सरकार ने एक और प्रोजेक्ट लेकर आ रही है, जिसका सीधा फायदा बिहार, यूपी और पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों को मिलेगा. इस प्रोजेक्ट में सिलीगुड़ी-गोरखपुर के बीच ग्रीनफील्ड सिलीगुड़ी गोरखपुर एक्सप्रेस-वे का निर्माण किया जायेगा. जिसकी लंबाई करीब 519 किलोमीटर है. इतना ही नहीं इसमें छह और आठ लेन होंगे और एक्सप्रेस-वे का संपूर्ण हिस्सा ग्रीनफील्ड होगा.

गौरतलब है कि बिहार के कई जिलों से होते हुए सिलीगुड़ी-गोरखपुर एक्सप्रेस-वे गुजरेगा. इसमें गोपालगंज, पूर्वी चंपारण, पश्चिम चंपारण, शिवहर, सीतामढ़ी, मधुबनी, सुपौल, अररिया और किशनगंज जिला शामिल है. इसके अलावा सहरसा और मधेपुरा जिलों को जोड़ा जा सकता है. इस नए प्रोजक्ट के अनुसार उत्तर प्रदेश में एक्सप्रेसवे का हिस्सा करीब 84 किलोमीटर तक रहेगा. ये गोरखपुर जिले से शुरु होते हुए देवरिया, कुशीनगर को जोड़ते हुए बिहार में प्रवेश करेगा. हालांकि इस एक्सप्रेस-वे की महत्वपूर्ण भूमिका ये है कि ये घनी आबादी से होते हुए नहीं गुजरेगी यानि अधिकांश हिस्सा सीधे गुजरेगी, जिससे इससे लंबाई कम हो जाएगी.

जानकारी के लिए बता दें कि सिलीगुड़ी से गोरखपुर के बीच नेशनल हाइवे की दूरी करीब 637 किलोमीटर है, जो कई जिलों की आबादी के बीच से गुजरता है. एक्सप्रेस वे के निर्माण की मंजूरी को लेकर NHAI पूर्णिया के परियोजना निदेशक ने कहा कि जल्द ही भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू होगी. क्योंकि इस परियोजना के निर्माण को मंजूरी मिल चुकी है. डीपीआर बना रही भोपाल की एजेंसी को ड्रोन सर्वे के लिए आदेश दिया जा चुका है. बता दें कि इस नए एक्सप्रेस-वे की कुल लंबाई 519 किलोमीटर रहेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *