बिहार में सिपाही मां बनी DSP, गर्भ में बच्चा और क्रैक किया BPSC, लोगों ने कहा- ‘मां तुझे सलाम’

डेस्क : बिहार के जिले बेगूसराय में कार्यरत एक प्रतिभा की धनी महिला सिपाही DSP बन गई है. सिपाही से DSPबनी बबली को राजगीर प्रशिक्षण केंद्र के लिए विरमित करने के पूर्व बेगूसराय SP योगेंद्र कुमार ने सम्मानित किया. बुधवार की शाम पुलिस अधीक्षक कार्यालय प्रकोष्ठ में भी उन्हें सम्मानित किया गया है. SP योगेंद्र कुमार ने कहा कि जिला बल की होनहार सिपाही ने ड्यूटी के बाद टाइम निकाल कर न सिर्फ अपना सपना साकार किया है बल्कि अपने सहकर्मियों के लिए भी प्रेरणास्रोत बनी है. बबली अपने घर की सबसे बड़ी बेटी हैं

बिहार के बोध गया के भागलपुर निवासी रोहित कुमार की पत्नी बबली ने साल 2015 में खगड़िया में बतौर सिपाही सेवा की शुरूआत की थी. वर्तमान में वह पुलिस लाइन बेगूसराय में कार्यरत हैं. SP कार्यायल में SP योगेंद्र कुमार, मुख्यालय DSP निशीत प्रिया, सदर DSP अमित कुमार ने बारी-बारी से मिठाई खिलाकर बबली को बधाई दिया. बबली के 7 माह के बच्चे, उनके पिता व पति को भी बधाई दी है. सभी उनकी इस मेहनत और लगन की सराहना कर रहे हैं.

SP कार्यालय में बंटी मिठाइयां : मौके पर SP कार्यालय में मिठाइयां भी बांटी गयी. SP योगेंद्र कुमार ने कहा कि जिला बल की होनहार सिपाही ने ड्यूटी के बाद अपना समय निकाल कर न सिर्फ अपने सपने को साकार किया है बल्कि उन्होंने सहकर्मियों के लिए प्रेरणास्रोत भी बनी है. मौके पर नवचयनित DSP बबली ने बताया कि घर की बड़ी बेटी के दायित्व के निर्वहन के लिए उन्होंने सरकारी नौकरी का प्रयास किया था और 2015 में कांस्टेबल पद पर चयनित हुई थी.

ड्यूटी के साथ साथ की मेहनत : कठिन परिश्रम और पक्के इरादे ने घर की आर्थिक परेशानियों के कारण उन्होंने अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए प्रयास जारी रखा और यह सफलता उन्हें उनके तीसरे प्रयास में मिली है. बबली कुमारी सिपाही की ड्यूटी करते हुए समय निकालकर लगन से मेहनत की जिसका परिणाम आज यह हुआ कि उनका चयन DSP के पद पर हुआ हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *