बिहार में 227 करोड़ की लागत से बनकर जल्द ही तैयार होगा पहला रबर डैम, विदेशी सैलानियों के

Rubber Dam Bihar

न्यूज डेस्क / सुमन सौरभ : बिहार वासियों को रबड़ डैम देखने को जल ही मिलने बाला है। बिहार में अब वो दिन दूर नहीं जब बिहार का पहला रबड़ डैम जल्दी ही बनकर स्थापित हो जाएगा । खासकर विदेश से गया आने वाले श्रद्धालुओं को अब पिंडदान, तर्पण और श्राद्धकर्म के लिए परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा। क्योंकि अगर यह डैम बन जाता है तो श्रद्धालुओं को हमेशा पानी उपलब्ध होगा।

गया जिले के विष्णुपद मंदिर में देवघाट के समीप बननेवाले इस रबर डैम का निर्माण कार्य शुरू हो चुका है। सुबे के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 23 सितम्बर 2020 को ही ऑनलाइन के माध्यम से इस डैम का शिलान्यास किया था. अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन स्थल होने के कारण गया में वर्ष भर देश-विदेश से पर्यटक पर्यटकों का तांता लगा रहता है। खासकर विदेश के लोग पितृपक्ष मेला व पिंडदानी के लिए आते हैं. मेला के दौरान तर्पण के लिए फल्गु नदी में हमेशा पानी नहीं रहने से श्रद्धालुओं व पर्यटकों को परेशानी झेलनी पड़ती थी. इसी के मद्देनजर सरकार ने रबर डैम बनाने की ठान ली. अगर यह डैम बन जाती है तो नदी में वर्ष भर 3 मीटर पानी रहेगा.

बिहार राज्य का पहला रबर डैम होगा 277 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाला यह राज्य का पहला रबर डैम होगा. इसके बन जाने से एक ओर जहां फल्गु में साल भर पानी रहेगा. दूसरी ओर गया के जलस्तर में भी कुछ हद तक सुधार होगा. हैदराबाद की NCC कम्पनी के द्वारा डैम निर्माण का कार्य शुरू किया गया है. वहीं देवघाट से सीताकुंड तक नदी पर ओवरब्रिज बनाया जा रहा है, ताकि देवघाट से सीताकुंड तक पिंडदानी जा सके. वही इस संबंध में जिलाधिकारी अभिषेक सिंह ने बताया कि विष्णुपद मंदिर के देवघाट के पास नदी में 350 मीटर चौड़ा और 650 मीटर लंबाई में यह डैम बनाया जा रहा है. इसमें 2 फुट पानी रखने की व्यवस्था की जा रही है. उन्होंने कहा कि सरकार की यह बड़ी योजना है। इसके साथ ही नदी के दोनों तरफ सौंदर्यीकरण भी किया जाएगा. इससे पर्यटकों की संख्या भी बढ़ेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *