Bihar में सुधा दही, लस्सी, घी और बटर के दाम बढ़े, जानें – क्या है मार्केट के नया रेट.

डेस्क : बिहार में packed डेरी प्रोडक्ट के दाम बढ़ रहे हैं क्योंकि उन पर 5% की जीएसटी लगाई जा रही है। जीएसटी लगने के कारण सभी पैक्ड डेरी प्रोडक्ट जैसे दही, लस्सी, छाछ आदि सभी पर 5% जीएसटी लगने से दामों में बढ़ोतरी हो गई है। बिहार में दाल, चावल और अनाज आदि के दाम पहले ही बढ़ चुके हैं क्योंकि उन पर जीएसटी प्रभावी हो चुकी है। पहले जब कोई पेक्ड सामान आता था तो उसी पर जीएसटी लगती थी लेकिन अब खुले प्रोडक्ट्स पर भी जीएसटी लगाई जा रही है। यह 5% जीएसटी उन्हीं पर लगेगी जो पहले से पैक होगे और जिनका वजन 25 किलोग्राम या उससे कम होगा।

समान को खोल कर बेचने पर नहीं लगेगी जीएसटी : यदि कोई व्यापारी 25 किलो के सामान लाता है और उसे खुले तौर पर बेचता है तो उस पर जीएसटी नहीं लगेगी क्योंकि पहले से पैक सामान लेबल लगा समान जीएसटी की श्रेणी में नहीं आएगा।

30 किलो का पैकेट को किया गया जीएसटी के दायरे से बाहर : 30 किलो का पैकेट को अब जीएसटी के दायरे से बाहर कर दिया गया है साथ ही सिर्फ पैकेज पर ही जीएसटी लगेगा, जिसमें कई खुदरा पैक होंगे। वहीं ये भी घोषणा हुई है कि 50 किलो वाले चावल के पैकेज को अब पैक और लेबल वाला सामान नहीं मानते हुए इसपर कोई भी जीएसटी नहीं लगाई जायेगी।

अनाज दाल, आटे के पैक पर कोई टैक्स नहीं लगेगा : केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने अनाज से लेकर दालों और दही से लेकर लस्सी तक खाद्य पदार्थों पर जीएसटी लगाए जाने से संबंधित सवालों पर स्पष्टीकरण दिया है। इसमें बताया गया है कि जीएसटी उन उत्पादों पर लगेगा जिसमे आपूर्ति पैकेटबंद सामग्री के रूप में की जाती हो।

प्रोडक्ट——– पहले———-अब

  • घी 200 एमएल (पोली)——–110——–120
  • घी 500 एमएल (पोली)——–250——–280
  • घी 500 एमएल (कार्टन)——–260——–290
  • घी 15 किलो ग्राम (टिन)——–7750——–8600
  • घी लो कोलेस्ट्रोल 500 एमएल——–290——–320
  • टेबल बटर 50 ग्राम——–28——–30
  • टेबल बटर 100 ग्राम——–48——– 52
  • टेबल बटर 500 ग्राम——–235——–250
  • लस्सी 150 एमएल——–10——– 12
  • मैंगो लस्सी 140 एमएल——–10——–12
  • छाछ 180एमएल——–10——–12
  • मिस्टी दही 100 ग्राम——–15——–18
  • मैंगो दही 100 ग्राम——–15——–18
  • प्लेन दही 200 ग्राम——–25——–30
  • प्लेन दही 400 ग्राम——–45——–50
  • पाउच दही 1000 ग्राम ——–65——–72

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *