तेजस्वी ने खोल दी नीतीश कुमार के मंत्री की पोल , सबूतों के साथ लगाया शराब तस्करी का आरोप…

tejaswi yadav

बिहार में शराबबंदी को लेकर तेजस्वी यादव सरकार पर काफी हमलावर हैं। तेजस्वी बार बार नीतीश सरकार पर शराब तस्करों के साथ मिलकर शराब तस्करी करने का आरोप लगा रहे हैं। ताजा मामले में तेजस्वी ने शनिवार सुबह प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए नीतीश कुमार के मंत्री रामसूरत राय पर उनके जमीन से शराब बरामदगी के मामले में झूठ बोलने का आरोप लगाया है। तेजस्वी ने इसके लिए तमाम तरह के सबूत भी पेश किए हैं। विपक्ष ने रामसूरत राय के मंत्रिपद से इस्तीफ़े की भी मांग की है।

मंत्री बोल रहे हैं झूठ- दरअसल मुजफ्फरपुर में मंत्री रामसूरत राय के जमीन पर बने एक स्कूल से भारी मात्रा में शराब बरामद हुआ था । पुलिस ने इस मामले में स्कूल के प्रिंसिपल अमरेंद्र कुमार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। मंत्री रामसूरत राय ने बयान दिया था कि स्कूल के लिए उन्होंने जमीन लीज पर दी थी। लेकिन तेजस्वी यादव ने आज प्रिंसिपल के भाई के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा कि रामसूरत राय झूठ बोल रहे हैं।

तेजस्वी ने कहा की अमरेंद्र कुमार ने ही पुलिस को स्कूल में शराब होने की सूचना दी थी , लेकिन पुलिस ने उन्हें ही गिरफ्तार कर लिया। उन्होंने आगे बोलते हुए कहा कि अगर जमीन का लीज हुआ था तो मंत्री जी लीज एग्रीमेंट पेपर सबके सामने प्रस्तुत करें। उन्होंने यह भी कहा कि मंत्री जी को उस खाते की भी जानकारी देनी चाहिए , जिसमे लीज का पैसा भेजा गया था। नेता प्रतिपक्ष ने नीतीश कुमार पर जबरदस्त हमला बोलते हुए कहा कि सरकार ने शराब बरामद होने पर उस जमीन में थाना खोलने की बात की थी , लेकिन अभी तक मंत्री जी के जमीन में थाना भी नहीं खोला गया और उनके भाई को गिरफ्तार भी नहीं किया गया है।

परिवार ने बताया जान का खतरा- आज प्रेस कॉन्फ्रेंस में तेजस्वी यादव के साथ स्कूल के प्रिंसिपल अमरेंद्र कुमार के भाई भी मौजूद थे। प्रिंसिपल के भाई अंशु ने स्कूल के उद्घाटन के समय का फोटो दिखाते हुए कहा कि मंत्री रामसूरत राय ने ही स्कूल का उद्घाटन किया था और स्कूल का नाम भी उनके पिताजी के नाम पर ही है। उन्होंने पुलिस द्वारा उनके भाई को फ़साने का आरोप लगाते हुए पूरे परिवार की जान को खतरा भी बताया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *