बिहार: गंगा नदी पर अगले 5 सालों में बनेंगे 18 नए शानदार पुल, जानिए- कहाँ कहाँ होगा निर्माण कार्य..

munger rail road

न्यूज डेस्क: बिहार सरकार इन दिनों सड़क निर्माण को लेकर काफी गंभीर नजर आ रही है। राज्य के सभी अलग-अलग क्षेत्रों को एक दूसरे से जोड़ने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। इसी कड़ी में दक्षिण और उत्तर बिहार के बीच जुड़ाव हेतु नीतीश सरकार ने शानदार कदम उठाया है। इसके लिए हर 40 किलोमीटर पर गंगा नदी पर पुल बनाने का लक्ष्य रखा गया है। इस तरह गंगा नदी पर 18 नए पुल बनेंगे। इसका निर्माण कार्य अगले 5 वर्षों में पूरा होने की संभावना है।

यदि यह परियोजना शत-प्रतिशत सफल होती है तो राज्य के उत्तरी और दक्षिणी हिस्सों में बारिश के मौसम में भी यातायात सुचारू रहेगा। गौरतलब है कि बिहार में बारिश के मौसम समय पूरा उत्तर बिहार बाढ़ की चपेट में रहता है, ऐसे में राज्य के इस हिस्से तक पहुंचना बेहद मुश्किल हो जाता है। गंगा नदी पर पुल बनने से इस क्षेत्र में हर मौसम में यातायात सुचारू रहेगा। विशेष रूप से स्थानीय प्रशासन को राहत और बचाव कार्य करने में काफी मदद होगी।

बता दे की इससे पहले बिहार में 10 लेन के केवल 4 पुल ही थे। अब राज्य सरकार गंगा नदी पर 62 लेन के 18 पुलों का निर्माण कार्य करवाने जा रही है। अगले 100 वर्षों के लिए यातायात योजना के तहत गांधी सेतु के ठीक बगल में चार लेन के नए पुल का निर्माण कार्य चल रहा है, जिसे वर्ष 2024 तक पूरा किया जाना है। गांधी के समानांतर बन रहे गंगा पुल के पूरा होने के साथ ही सेतु, पटना और हाजीपुर की कनेक्टिविटी और भी बढ़ेगी। बिहार के सड़क निर्माण मंत्री ने खुद मौके का दौरा कर निर्माण कार्य की समीक्षा की है।

महात्मा गांधी सेतु पर बने सुपरस्ट्रक्चर को बदलने का काम चल रहा है। वेस्टर्न लेन का काम पूरा हो चुका है और अब ईस्टर्न लेन का निर्माण कार्य चल रहा है। सरकार का दावा है कि यह काम मार्च 2022 तक पूरा कर लिया जाएगा। गांधी सेतु की दोनों गलियों का निर्माण पूरा होने के बाद लोगों को जाम की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा। उत्तर बिहार को दक्षिण बिहार से जोड़ने वाले महात्मा गांधी सेतु का निर्माण वर्ष 1983 में पूरा हुआ था, लेकिन पुल के ढहने के बाद इसके पुराने ढांचे को गिराया जा रहा है और स्टील से नया सुपर स्ट्रक्चर बनाया जा रहा है। वर्तमान में वेस्टर्न लेन का काम पूरा हो चुका है और ईस्टर्न लेन का काम चल रहा है।

बिहार में गंगा नदी पर महात्मा गांधी सेतु के पुराने ढाँचे के स्थान पर नये इस्पात के अधिरचना के निर्माण के साथ ही 18 नये पुलों का निर्माण किया जा रहा है। गांधी सेतु के ठीक बगल में छह लेन का पुल बनाया जा रहा है। गांधी सेतु से 10 किमी डाउनस्ट्रीम में कच्ची दरगाह बिदुपुर पुल का निर्माण किया जा रहा है। जेपी सेतु के समानांतर एक नया पुल बनाया जाना प्रस्तावित है और उसी से 10 किमी पश्चिम में दिघवारा में छह लेन का पुल बनाया जाना है। बख्तियारपुर से ताजपुर फोर लेन पुल का निर्माण कार्य जारी है। राजेंद्र सेतु के समानांतर छह लेन का पुल बनाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

UPSC टॉपर शुभम की कहानी, 6 साल की उम्र में घर छोड़ा, 12वीं में देखा था IAS बनने का सपना मिलिए जागृति से,जानिए कैसे बनीं वो UPSC के महिला वर्ग में देशभर की टॉपर Divya Aggarwal ने जीता BigBossOTT-जानें ट्रॉफी के साथ कितना मिला कैश ? Jio अब बजट रेंज में लॉन्च करेगा लैपटॉप, ये होंगे कीमत और Features Airtel vs Vi vs Jio : जानें 600 रुपये से कम वाला किसका रिचार्ज प्‍लान सबसे बेस्‍ट