ये है बिहार के 2 र‍िटायर अफसर, गरीब बच्‍चों को बिलकुल फ्री में पढ़ाते हैं, पेन-कॉपी भी देते है.. जानें –

डेस्क : बिहार में शिक्षा की व्यवस्था दिन पर दिन खराब होती जा रही है ऐसे में जिंदगी जीने वाले परिवार अपने बच्चों के पढ़ाई को अच्छा करने के लिए उन्हें निजी स्कूल भेजते हैं। वही सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को अलग से ट्यूशन और कई कोर्स भी करवाते हैं ।गरीब परिवारों का इसमें बहुत नुकसान होता है। उन्हें पढ़ाई और आगे बढ़ने में काफी संघर्ष करना पड़ता है। ऐसे ही बच्चों की पढ़ाई को लेकर मुजफ्फरपुर में सरकारी सेवा से रिटायर हुए 2 लोगों ने खास अभियान चलाया है। उन्होंने सावित्रीबाई फुले शिक्षण केंद्र में यह अभियान शुरू किया है।

तिरहुत प्रमंडल आयुक्त कार्यालय से सेवानिवृत्त प्रशाखा पदाधिकारी चंद्रशेखर कुमार और पूर्व बैंकर महेश्वर प्रसाद सिंह ने इन बच्चों को लेकर खास काम शुरू किया है। इसमें 6 शिक्षकों की एक टीम बनाई है जिसमें वह गरीब बच्चों को 2 घंटे फ्री में पढ़ाते हैं। पहली से सातवीं तक के 32 बच्चे यहां पढ़ने आते हैं। यहां पर जाति धर्म की कोई भी सीमा नहीं है यहां अधिकतर दलित बच्चे भी आते हैं और उन्हें फ्री में पेन कॉपी पेंसिल भी दिए जाते हैं।

रिटायर अधिकारी चंद्रशेखर कुमार का कहना है कि वह समाज के लिए कुछ करना चाहते थे सावित्रीबाई फुले का विचार था कि ज्ञान के बिना हम जानवर बन जाएंगे इसलिए खाली नहीं बैठना चाहिए, इसीलिए मैंने लोगों का मार्गदर्शक बना और शिक्षा के क्षेत्र में कुछ करने का मन बनाया इसके लिए शहर के एक पुराने व्यवसाई ने उनको अपना पुराना मकान भी दे दिया है। बच्चे शाम 4:00 से 6:00 बजे तक इन्हें पढ़ने आते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *