यह बैंक दे रहा है FD पर सबसे ज्यादा ब्याज, तुरंत चेक करें लिस्ट

7
rupees

देश के कुछ बैंकों ने हाल ही में सावधि जमा पर ब्याज दरें बढ़ाई हैं। इनमें स्टेट बैंक, एचडीएफसी, आईसीआईसीआई और कोटक महिंद्रा बैंक शामिल हैं। अगर आपने FD में निवेश करने का फैसला किया है, तो पहले इन बैंकों की दरों की जांच करें और उनकी एक-दूसरे से तुलना करें, तभी निवेश करना फायदेमंद होगा। ये सभी बैंक सामान्य जमाकर्ताओं की तुलना में वरिष्ठ नागरिक FD पर अधिक ब्याज दर प्रदान करते हैं।

स्टेट बैंक एफडी 7 दिनों से 10 साल की अवधि में सामान्य ग्राहकों के लिए 2.9% से 5.5% तक की ब्याज दरों की पेशकश कर रहे हैं, जबकि वरिष्ठ नागरिकों को इन जमाओं पर 3.4% से 6.30% तक की ब्याज दरें मिल रही हैं। वरिष्ठ नागरिकों को सामान्य जमाकर्ताओं की तुलना में 50 आधार अंक (बीपीएस) अधिक ब्याज मिल रहा है। ये दरें 15 फरवरी 2022 से लागू हैं।अधिकांश बैंकों ने सार्वजनिक और निजी दोनों बैंकों के लिए 2 करोड़ रुपये से कम की एफडी दरों की घोषणा की है। यानी कितने महीने या साल के लिए कितना पैसा जमा किया जाता है, इसके आधार पर ग्राहक को कम या ज्यादा रिटर्न मिलता है। बैंक अपनी जमा राशि पर अपनी ब्याज दरें घोषित करते हैं। इसलिए कहीं भी निवेश करने से पहले इसकी तुलना कर लें।

निजी बैंक एचडीएफसी बैंक ने 2 करोड़ रुपये से कम की जमा राशि के लिए कुछ एफडी दरों में बढ़ोतरी की है। यह बढ़ोतरी फिक्स्ड टर्म FD पर लागू होती है। नई दरें 6 अप्रैल 2022 से प्रभावी होंगी। एचडीएफसी बैंक सामान्य जमाकर्ता को 7 दिन से 10 साल की एफडी पर 2.50 फीसदी से 5.60 फीसदी तक ब्याज दे रहा है।कोटक महिंद्रा बैंक ने विभिन्न परिपक्वताओं के लिए 2 करोड़ रुपये से कम की एफडी की दर में वृद्धि की है। नई दरें 12 अप्रैल 2022 से प्रभावी होंगी। नई बढ़ोतरी के बाद 7 दिन से 10 साल की FD पर 2.50% से 5.60% की दर से ब्याज दिया जा रहा है।

बैंक ऑफ बड़ौदा ने मार्च से एफडी दरों में बढ़ोतरी की है। यह वृद्धि 2 करोड़ रुपये से कम की जमा राशि के लिए है। नई दरों पर नजर डालें तो 7 दिन से 10 साल की एफडी पर औसत खाताधारक को 2.80 से 5.55 फीसदी ब्याज मिल रहा है।अन्य बैंकों की तरह निजी आईसीआईसीआई बैंक ने भी एफडी दरों में बढ़ोतरी की है। सामान्य जमाकर्ता को 7 दिन से 10 साल की FD पर 2.50% से 5.60% ब्याज दिया जाता है। आईसीआईसीआई बैंक की नई दरें 20 जनवरी 2022 से लागू हैं।