बिहार के एमवी कौटिल्य पर एक बार फिर से शुरू हो गई है पर्यटन यात्रा शुरू – हो आएं गंगा माँ की गोद में

डेस्क : करोना वायरस के चलते पूरे देश में पर्यटन ठप्प पड़ा था। इसका सीधा असर बिहार पर भी पड़ा है। 28 अप्रैल 2021 से बिहार का एमवी कौटिल्य जहाज़ बंद था। किसी भी राज्य की आर्थिक स्थिति में पर्यटन स्थल का बहुत बड़ा योगदान है। ऐसे में बिहार पर्यटन विकास निगम की ओर से खुशखबरी आई है। बिहार का एमवी कौटिल्य जो कि एक पानी जहाज है उस पर दोबारा से लोग सफर कर सकेंगे। वह पानी पर सफर करके बिहार की वादियों का लुत्फ़ उठा सकेंगे। इसकी शुरुआत मात्र 50% पर्यटन के साथ हुई है।

ऐसे में यह जहाज़ एक बार में 30 से 32 लोगों को ले जाता था, फिलहाल वह 15 से 16 लोगों को ही ले जा रहा है। इसकी शुरुआत सुबह के 11:00 बजे से हो जाती है और शाम 5:00 बजे तक लोग जहाज की सैर का आनंद उठाते हैं। बता दें इस वक्त कोरोना के नियमों का पालन बड़े स्तर पर किया जा रहा है ऐसे में जो भी सैलानी बिना मास्क लगा के आ रहे हैं उनको परिसर में आने की अनुमति नहीं है। सभी सीटों को सैनिटाइज किया जा रहा है और उस हर गतिविधि पर ध्यान दिया जा रहा है जिससे संक्रमण फैलने की संभावना है।

पानी का यह जहाज एमबी कौटिल्य गांधी घाट से खुलकर कृष्णा घाट तक जाता है। इसके लिए वह 45 मिनट का समय लेता है, फिर वापस बछवाड़ा घाट रानी बाग गुलाब से होते हुए लॉ कॉलेज तक यात्रा पूरी करता है। 45 मिनट की यात्रा पूरी करके जहाज़ वापस गांधी घाट आ जाता है। सिर्फ सोमवार का दिन होता है जिस दिन जहाज अपनी सेवा नहीं देता। बाकी दिन लोग लगातार आते हैं और इस जहाज पर सैर करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.