चंद सेकंड्स में ढह जायेगा Twin Tower, जानें क्यों किया जा रहा इसका डिमोलिशन

आज भारत में अब तक का सबसे बड़ा विस्फोट किया जाएगा। दोपहर के 2 बजे के करीब नोएडा के सेक्टर 93-A स्थित 103 मीटर ऊंचे Twin Tower की ऊंचाइयों का विनाश कर दिया जायेगा। इसके लिए इमारत में 3700 किलो विस्फोटक अलग-अलग फ्लोर पर लगाया गया है। आसपास की सोसाइटी में रहने वाले लोगों ने फ्लैट खाली करने शुरू कर दिए है। पुलिस लगातार लोगो से क्षेत्र को खाली करवा रही है।

बदल दिया जायेगा ट्रैफिक का रूट आज लोगों के आवागमन को ध्यान में रखते हुए ट्रैफिक रूट्स में भी बदलाव किए गए हैं। ट्विन टावर के आसपास दो किलोमीटर हिस्से की आंतरिक सड़कों पर सुबह सात बजे से ट्रैफिक पर रोक लगा दिया गया है। यह शाम को पांच बजे के बाद खोली जाएगी। साथ ही नोएडा-ग्रेनो एक्सप्रेसवे भी दोपहर सवा दो बजे से एक घंटा तक बंद रहेगा।

कुतुब मीनार से ऊंचा Twin Tower
103 और 97 मीटर ऊंचे टावर पहली बार देश में गिरेंगे
72.5 मीटर ऊंचे कुतुब मीनार से बड़े हैं टावर
32 मंजिल बना है एपेक्स टावर
29 मंजिल बना है सियान टावर
9642 छेद में 3700 किलो विस्फोटक का इस्तेमाल होगा
2:30 बजे दोपहर रविवार को होगा विस्फोट
9 से 12 सेकंड में इमारतें हो जाएंगी जमींदोज

क्यों हो रहा विस्फोट इतने ऊंचे इमारत का विस्फोट क्यों किया जा रहा? इसके बनाते वक्त बिल्डर्स से कई सारी चूक हुई जो अनदेखी नहीं की जा सकती थी। इन कारणों से खत्म हो जाएगा Twin Tower का अस्तित्व

  1. नेशनल बिल्डिंग कोड के नियमों की अनदेखी कर टावर को मंजूरी मिली
  2. दोनों टावर के बीच की दूरी 16 की बजाय सिर्फ नौ मीटर रखी गई
  3. टावर वहां बने जहां ग्रीन पार्क, चिल्ड्रन पार्क और कॉमर्शियल कॉम्प्लेक्स बनने थे। इससे घरों में धूप आनी बंद हो गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *