तीसरी लहर की तैयारी हुई पूरी, बच्चों के लिए इस महीने आ रही है वैक्सीन- लगेंगे 2 से ज्यादा डोज़

vaccination for kids in india

डेस्क : कोरोना के संकट से बचने के लिए वैक्सीन ही एकमात्र इलाज है। भारत में लोगों को कोरोना की तीसरी लहर की चिंता सता रही है। हर तरफ यह अनुमान लगाया जा रहा है कि बच्चों को संक्रमण से सबसे ज्यादा नुकसान होगा। ऐसे में अब राज्य और केंद्र सरकारें सतर्क हो गई है। इस बार सरकार बच्चों के मामले में किसी भी तरह की लापरवाही नहीं दिखाना चाहती हैं। केंद्र की तरफ से संकेत दिया गया है कि बच्चों की वैक्सीन जल्द उपलब्ध हो सकती है।

यह टीके 12 से 18 साल के बच्चों के लिए होंगे। नीति आयोग के अध्यक्ष वी.के पॉल का कहना है कि भारत के बाजारों में जल्द ही जाइडस कैडिला नाम का टीका उपलब्ध करा दिया जाएगा। इस वैक्सीन का सफलता पूर्वक परीक्षण किया जा चुका है, आने वाले 2 सप्ताह में इस वैक्सीन का इस्तेमाल करने के लिए लाइसेंस भी जारी कर दिया जाएगा। इस वैक्सीन का भारत के 800 बच्चों पर परीक्षण किया गया था। इस परिक्षण से अनुमान लगाया जा रहा है की अब बच्चों को जल्द वैक्सीन उपलब्ध हो जाएगी।

ज्यादा जानकारी के लिए बता दें कि इस वैक्सीन को इंजेक्ट नहीं किया जाता बल्कि इस वैक्सीन को इंट्रडर्मल तरीके से बच्चों की चमड़ी पर लगा दिया जाता है। कैडिला वैक्सीनेशन के लिए केंद्र सरकार ने बायोफार्मा मिशन के तहत सहायता दी है। ऐसे में जायडस कैडिला को ड्रग जनरल कंट्रोलर ऑफ इंडिया की तरफ से अप्रूवल मिलने वाला है। यह दवा भारत के कोरोना वेरिएंट पर असरदार है। इस दवा को ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका और यूके जैसे देशों में प्रमाणिकता मिली है। इस टीके का करीब 28000 लोगों पर परीक्षण हुआ और इसमें 12 से 18 साल के बच्चे भी शामिल थे। भारत में इस वक्त इतनी क्षमता है कि वह आने वाले 6 महीने में तीन करोड़ तक टीके उपलब्ध करवा सकता है। फिलहाल अगले दौर में कैडिला 12 साल से कम उम्र के बच्चों में परीक्षण करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *