अजवाइन पाचन को स्वस्थ रखने में मदद करती है। पकोड़े से लेकर परांठे तक, लगभग सभी तले हुए खाने की चीज़ों में अजवाइन का उपयोग आमतौर पर किया जाता है।

आप अपना वजन कम करना चाहते हैं, तो हर सुबह एक कप अजवाइन का पानी पीना चाहिए। यह मेटाबॉलिज्म को बढ़ाएगा जिससे आपके शरीर से फैट कम होने लगते हैं।

भारत में गर्भावस्था में कब्ज या प्रेगनेंसी में गैस बनने जैसी पेट से सम्बंधित समस्याएं होती है, अजवाइन का पानी पीने से राहत मिलती है। प्रेगनेंसी में महिलाओं को इसका सेवन करना चाहिए।

पथरी का दर्द बहुत तीव्र होता हैं, अजवाइन के पानी पीने से किडनी स्टोन ठीक और उन्हें बनने से रोकने में मदद मिल सकती है। अजवाइन का पानी किडनी रोग से होने वाले दर्द के इलाज में भी मदद करता है।

अजवाइन के गर्म और सुखदायक गुणों के कारण, अजवाइन का पानी भी श्वसन समस्याओं के इलाज के लिए उपयोग किया जाता है। अस्थमा के लक्षणों से छुटकारा पाने के लिए गर्म या गुनगुना अजवाइन का पानी पी सकते हैं।

अपने मुंह को स्वस्थ रखने के लिए, आप माउथवाश के रूप में अजवाइन के पानी का उपयोग कर सकते हैं अजवाइन  माउथवाश बनाने के लिए लौंग के तेल, अजवाइन के बीज और पानी को मिक्स कर सकते हैं।

अजवाइन का पानी एक प्राकृतिक सर्दी खांसी की दवा है जो आपको सर्दी के लक्षणों से राहत दिलाने में मदद कर सकता है, और शरीर को भी गर्म रखता है।

आंतरिक त्वचा पर भीं फायदेंमंद इसका गाढ़ा पेस्ट  पेस्ट फोड़े, मुंहासे या एक्जिमा के कारण त्वचा पर खुजली और सूजन को कम करने के लिए विशेष रूप से उपयोगी होता है।

अजवायन का पानी मासिक धर्म चक्र को नियंत्रित करने के लिए उपयोग किया जाता है। इसके लिए रात में मिट्टी के बर्तन में अजवाइन के बीजों को पानी में भिगोना है। सुबह इस पानी का सेवन करें।

BY KUMARI MILI