बिहार के सिमरिया गंगा धाम पर "हरकी पौड़ी" की तर्ज पर बने राज्य के पहले "रिवर फ्रंट" का CM नीतीश कुमार ने उद्घाटन कर दिया

बिहार सरकार के द्वारा सिमरिया गंगा धाम में 115 करोड़ की लागत से सौंदर्यीकरण का कार्य किया गया है।

नमामि गंगे के द्वारा सिमरिया पावन धाम के विकसित होने से लोगों में भी काफी खुशी देखी जा रही हैं। लोगों का कहना है कि अब हरिद्वार के तर्ज पर सिमरियाभी विकसित हो रहा हैं।

अब सिमरिया घाट पर श्रद्धालुओं को सीढ़ी घाट, रिवर फ्रंट, चेंजिंग रूम, गंगा आरती, शौचालय सहित कई सुविधा मिलेगी

नवंबर 2022 में CM नीतीश कुमार ने सिमरिया के कायाकल्प करने का निर्देश जल संसाधन मंत्री संजय कुमार झा को दिया था

अब बिहार वासियों को गंगा महाआरती के लिए हरिद्वार और बनारस नहीं जाना पड़ेगा। क्योंकि सिमरिया में ही श्रद्धालुओं को सभी सुविधाएं मिल जाएगी।

सिमरिया गंगा धाम के विकसित होने से बिहार के पर्यटन में काफी वृद्धि मिलेगी। साथ ही स्थानीय लोगों को रोजगार भी मिलेगा।  

24 फरवरी 2024 को सीएम नीतीश ने रिवर फ्रंट के पहले फेज का उद्घाटन किया है, अन्य कार्य अभी भी युद्ध स्तर पर जारी है

for more stories