Black Section Separator

लड़कियों की शादी की न्यूनतम उम्र 18 से बढ़ाकर 21 साल होगी, कैबिनेट से प्रस्ताव पास

BIHARIREPORTER .COM

Black Section Separator

 बेटियों पर बोले 'Modi सही पोषण मिले इसके लिए शादी की कानूनी उम्र 18 साल से बढ़ाकर 21 साल करने का प्रस्ताव दिया। जल्द ही इस कानून को  शक्ल दे दी जाएगी।

Black Section Separator

15 अगस्त 2020 के भाषण में मोदी सरकार ने बेटियों की स्वास्थ पर केंद्रित करते हुए  इस बदलाव का संकेत दिया था । जिसकी सराहना किया जा रहा है ।

Black Section Separator

WHO का मानना है की 20 साल से कम उमर की लड़कियां शारीरिक रूप पर तैयार नहीं होती गर्भ धारण के लिए । बेटियों को कुपोषण से बचाने के लिए यह फैसला उठाया गया है।

Black Section Separator

UP महिला आयोग अध्यक्ष विमला बाथम का मानना है की 18 साल कच्ची उम्र होती है और 21 साल की लड़कियां आगे के पीढ़ी के लिए एक समाजदार स्थाब साबित होगी।

Black Section Separator

इस कानून का शिष्य महिलाओं को पूर्णतः शिक्षा और अवसर प्रदान करना है जिससे वो अपने क्षमता को पूरी तरह इस्तमाल करके पुरुषों के साथ बराबरी कर सकें ।

Black Section Separator

1978 में युवतियों की न्यूनतम उम्र में आखिरी बार बदलाव किया गया था। इसके लिए शारदा एक्ट के तहत उस समय लड़कियों के लिए विवाह की आयु सीमा 15 से 18 किया था। इसके लिए शारदा एक्ट 1929 में बदलाव किया गया था।