BY KUMARI MILI

“”

स्विस चीज को देखेंगे तो पाएंगे कि इसमें कई गड्ढ़े नजर आते हैं? कभी सोचा है कि ऐसा क्‍यों है? इसे जानने के लिए चीज कैसे तैयार होती है।

“”

चीज दूध से बनती है इसमें कितने पोषक तत्‍व होंगे, फ्लेवर और रंग कैसा होगा, यह सब कुछ निर्भर करता है कि दूध किस तरह का है।

“”

चीज को तैयार करने के लिए दूध में कुछ खास तरह का बैक्‍टीरिया डाला जाता है. यह बैक्‍टीरिया दूध में एक केमिकल रिएक्‍शन शुरू करता है।

“”

इसके बाद यह दो हिस्‍सों में बंट जाता है. दही और पानी. यहीं से चीज बनने की शुरुआत होती है.इसे एक गोल बर्तन में तैयार किया जाता है।

“”

जैसे-जैसे चीज तैयार होती है, इसमें बैक्‍टीरिया का असर साफ दिखने लगता है. यहीं इसमें गड्ढ़े पड़ने की शुरुआत होती है।

“”

जैसे-जैसे चीज तैयार होती है इसमें मौजूद बैक्‍टीरिया लैक्टिक एसिड को खत्‍म करने लगती है और इसमें कार्बन-डाई-ऑक्‍साइड गैस रिलीज करती है।

“”

चीज पुरानी होती है, बबल की संख्‍या बढ़ने लगती है. यही वजह है कि जब चीज काटते हैं तो अंदर बबल जैसी गोल संचरना नजर आती है।

“”

स्विस चीज में ज्‍यादा आइज का मतलब है यह उतनी ही ज्‍यादा पुरानी है. कहा जाता है कि अध‍िकतम 18 साल तक चीज खराब नहीं होती