जापान के लोग अपनी अच्छी सेहत और लंबी उम्र के लिए जाने जाते हैं. इसके पीछे इनकी अच्छी लाइफस्टाइल, सफाई  की आदत और अच्छा खान-पान माना जाता है. 

BY KUMARI MILI

जापानी लोग शरीर में नेचुरल तरीके से इम्यूनिटी बढ़ाने वाले आहार को ज्यादा महत्व देते हैं, जैसे फर्मेंट फूड, जापानी लोग हर खाने को फर्मेंट करने की कोशिश करते हैं।

फर्मेंटेड फूड वो होते हैं जिन्हें यीस्ट यानी खमीर बनाकर तैयार किया जाता है. इस तरह के फूड को बनाने के लिए इस्तेमाल सामग्री को रात भर या रूम टेंपरेचर पर कुछ घंटों के लिए रखा जाता है. इस दौरान खमीर बनने की प्रक्रिया शुरू होती है.

 फर्मेंटेशन बैक्टीरिया या फंगस आर्गेनिक कम्पाउंड को एसिड में बदल देते हैं. ये एसिड एक नेचुरल प्रिजर्वेटिव के तौर पर काम करता है. फर्मेंटेड फूड स्वाद में थोड़े खट्टे होते हैं.

फर्मेंटेशन से बने फूड सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं. जापान में फर्मेंटेशन का इस्तेमाल सदियों से किया जाता रहा है. कॉफी और चॉकलेट बीन्स को भी यहां फर्मेंट करके तरह-तरह की डिश बनाई जाती है.

जापान में फर्मेंटेशन की इस प्रक्रिया को हक्को कहा जाता है जिसका इस्तेमाल किसी भी खाने को हेल्दी और स्वादिष्ट बनाने के लिए किया जाता है 'सुकेमोनो (अचार), मिसो (फर्मेंटेड सोया बीन पेस्ट) सभी चीज़े फर्मेंट करके बनाए जाते हैं।

जापानियों की तरह हमें डाइट में ज्यादा से ज्यादा फर्मेंटेड फूड शामिल करना चाहिए. ये डायबिटीज और हाइपरटेंशन से बचाते हैं और इनमें भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होते है. जो विटामिन से भरपूर होते हैं।

जापान के लोग कम मात्रा में खाना खाते हैं. यही वजह है कि खूब सारा चावल और कार्बोहाइड्रेट खाने के बावजूद यहां के लोग जल्दी मोटे नहीं होते हैं. जापान के लोग फिजिकल एक्टिविटी ज्यादा करते हैं.

for more stories

or visit us at