जब करिश्मा कपूर ने पूरे कपूर खानदान की तोड़ दी सालों पुरानी परंपरा – जानें क्या थी वजह ?

Karishma Kapoor (2)

डेस्क : करिश्मा कपूर उन बॉलीवुड हीरोइनों में आती है, जो 90 के दशक में काफी फेमस हुई थी। बता दें कि बॉलीवुड की सभी अदाकारा अपनी खूबसूरती और जवानी के जलवे बिखेरने के लिए चर्चित थी लेकिन उनमें सबसे ज्यादा करिश्मा कपूर चर्चा में रहती थी। ऐसे में वह किसी के परिचय की मोहताज नहीं है्। आज भी कई लोगों उनको याद करते हैं। जब भी वह फिल्मों में आती थी तो उनके गानों पर लोग थिरकने लगते थे।

अनेकों हीरोइनों के मुकाबले उनका करियर बेहद सफल रहा था। वहीँ कपूर खानदान की वह एक ऐसी बेटी थी। जब वह फिल्मों में आईं थी तो उन्होंने ऐसा काम किया जिसकी किसी को उम्मीद नहीं थी। करीना कपूर के माता-पिता रणधीर कपूर और बबीता कपूर फिल्मों में पहले से ही अपनी धाक जमा चुके थे। ऐसे में भारत का हर नागरिक इनके बारे में जानता था। इसी क्रम में करिश्मा कपूर भी अपनी लोकप्रियता बढ़ाना चाहती थी। वही कपूर परिवार में बहू बेटियों को काम करने की इजाजत नहीं थी।

पृथ्वीराज कपूर ने इस तरह की परंपरा को शुरू किया था, जिसमें उनके परिवार की कोई बहु बेटी फिल्मों में काम नहीं कर सकती थी, लेकिन वहीँ करिश्मा कपूर फिल्मों में काम करना चाहती थी, जिसके चलते यह परंपरा उनके द्वारा तोड़ दी गई। इसके बाद जब करिश्मा कपूर ने अपने पिताजी रणधीर कपूर से इजाज़त मांगी तो उनको इजाज़त नहीं मिली।

तब करिश्मा कपूर करीना कपूर और उनकी मां अलग हो गए। उनकी मां बबीता कपूर ने दोनों बेटियों की खूब मन लगाकर परवरिश की। धीरे-धीरे जब करिश्मा कपूर बड़ी हुई तो मात्र 17 वर्ष की उम्र में उनकी फिल्म प्रेम कैदी आई। इसके बाद वह काफी प्रचलित हो गई। वह काफी मुश्किल भरे दौर से गुजरी थी। करिश्मा को यह कार्य अपने परिवार के विरुद्ध जाकर करना पड़ा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *