लालू यादव और मुलायम सिंह यादव ने की मुलाकात तो एक बार फिर हिली योगी सरकार

डेस्क : हाल ही में देश के दो दिग्गज राजनीतिक सितारों ने बैठक की, बता दें कि राजद सुप्रीमो लालू यादव और सपा के संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने हाल ही में मुलाकात का दौर ख़त्म किया है। दोनों ने दिल्ली में मुलाक़ात की। इस मुलाकात के गवाह खुद अखिलेश यादव रहे। बता दें की 2022 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में चुनाव को लेकर सरगर्मी बढ़ गई है। फिलहाल लालू यादव जेल से बाहर है और वह अपने द्वारा किए जा रहे सभी कामों को जोर-शोर से प्रसारित कर रहे हैं। उनकी तबीयत में बिल्कुल भी उतार-चढ़ाव देखने को नहीं मिल रहा है।

फिलहाल वह पूरी तरह से स्वस्थ है। सोशल मीडिया पर लालू यादव ने जनता को एक पैगाम लिखा है, जिसमें उन्होंने कहा कि देश के सबसे बड़े समाजवादी संस्थापक और वरिष्ठ नेता आदरणीय श्री मुलायम सिंह से मुलाकात करके मुझे बहुत अच्छा लगा। उनके साथ गैर बराबरी, खेत खलिहान, शिक्षा किसान एवं युवाओं के बारे में उन्होंने खूब चर्चा की है। ऐसे में वह इन सभी प्रकार के लोगों के लिए एक मसीहा बनकर हमेशा खड़े रहे हैं। साथ ही साथ उन्होंने लिखा कि आज देश को संप्रदायवाद और पूंजीवाद जैसी सोच की जरूरत नहीं बल्कि लोक समता और समाजवाद चाहिए।

बता दें कि मुलायम सिंह यादव की तबीयत खराब चल रही है। ऐसे में लालू यादव ने भी अपनी बीमारी का एक लंबा वक्त झेला है। दोनों लोग अब दिल्ली में मीटिंग कर चुके हैं, जिसके मुख्य गवाह मुलायम सिंह यादव के बेटे अखिलेश यादव थे। ऐसे में अब उत्तर प्रदेश और बिहार के गलियारों में चर्चा बढ़ गई है बता दें कि उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। उत्तर प्रदेश एक ऐसा गढ़ है जिसके साथ कई राज्यों की सीमा लगती है। देश की सबसे ज्यादा आबादी उत्तर प्रदेश में रहती है। ऐसे में सबसे ज्यादा सीट हासिल करने वाला राज्य उत्तर प्रदेश है।

इस मीटिंग से माना जा रहा है कि एक बार फिर से दोनों पक्षों के वोटर स्ट्रांग हो जाएंगे और इसका चुनाव पर जरूर असर पड़ेगा। बता दें की यह सियासत मुलाकात अपने आप में ही मायने रखती है। पिछले साल लालू यादव ने शरद पवार से बातचीत की थी, जिसके चलते कांग्रेस के राज्यसभा सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह भी मौजूद थे। फिलहाल इस मुलाकात की गूंज पूरे उत्तर प्रदेश और बिहार में सुनाई दे रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.