क्यों नेताओं ने 8 किसानों की जान ली? मुआवजा देकर किया परिवार को शांत -लखीमपुर की दुर्घटना को यहाँ समझे फटाफट

डेस्क : देश में इस वक्त बड़ा बवाल मचा हुआ है बता दें कि उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी से एक बड़ी दुर्घटना सामने निकल कर आई है, जहां पर नेताओं की गाड़ियों ने 8 किसानों को कुचल दिया है। बता दें कि सभी किसान भाई, कृषि कानूनों का विरोध कर रहे थे लेकिन जब वहां से नेताओं की गाड़ियां गुजरी तो नेता रुके नहीं और धरना दे रहे किसानों पर अपनी गाड़ी चढ़ाते चले गए।

Uttar Pradesh: Eight, including 4 farmers, killed during protests in Lakhimpur  Kheri

मौके पर नेताओं के गाडी के ड्राइवर को पकड़ के लोगों ने मौत के घात उतार दिया वहीँ मौके पर कांग्रेस पार्टी की प्रियंका गांधी, समाजवादी पार्टी के अखिलेश यादव और ए आई एम आई एम पार्टी के नेता उद्दीन ओवैसी ने इस घटना की निंदा की है। बता दें कि उत्तर प्रदेश राज्य के स्टेट होम मिनिस्टर अजय मिश्रा के खिलाफ एफ आई आर दर्ज की गई है। यह घटना अपने आप में ही शर्मसार कर देने वाली घटना है। बता दें कि मुआवजे के तौर पर उत्तर प्रदेश सरकार ने सभी मृतकों के परिवार को 45 लाख का मुआवजा देने का वादा किया है।

Lakhimpur Kheri violence: India town tense after eight die in farmers'  protests - BBC News

जब यह घटना हुई तो मृतकों के परिवार जन करीब 18 घंटे तक उनके शव को लेकर सड़क पर ही बैठे रहे। एक तरफ सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि जब कृषि कानूनों पर रोक लगा दी गई है तो इस पर आंदोलन और धरना देने का कोई मतलब नहीं बनता। सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि अब दोबारा से नए नियम बनाने पड़ेंगे जिनके तहत यह निर्धारित किया जाएगा कि जब कानूनों पर रोक लगा दी जाती है तो उस पर किसी भी प्रकार से धरना करना सही नहीं है।

8 Killed in Farmers' Protest in Lakhimpur Kheri: Opp leaders head for  protest site, SP says 'cruel' Yogi must resign

Leave a Reply

Your email address will not be published.