IAS अधिकारी बनने के लिए की जी तोड़ मेहनत, 5 बार असफल होने के बाद नहीं मानी हार

डेस्क : इंसान का जन्म श्रेष्ठ योनियों में हुआ है। ऐसा हम दावा नहीं करते बल्कि ऋषि-महा ऋषि वेदों के द्वारा कहते हैं और शायद इस ही वजह से वह कोई भी काम करने का निश्चय कर लेता है और फिर वह उसको पूरा करके ही रहता है। कुछ ऐसा ही उदाहरण हमें यहां पर एक अभ्यर्थी का देखने को मिला है, जिसने तब तक मेहनत की जब तक वह आईएएस अधिकारी नहीं बन गया। हालांकि, उसने यूपीएससी की परीक्षा पास कर ली थी, लेकिन रैंक अच्छी ना आने के कारण वह आईआरएस अधिकारी बन पाया।

आज हम बात करने वाले हैं 2017 के ऑल इंडिया टॉपर अनुदीप दूरीशेट्टी के बारे में अनुदीप ने यह सपना तब देखा था, जब वह स्नातक हासिल कर रहा था। उन्होंने अपनी पढ़ाई तेलंगाना से की है और स्नातक की पढ़ाई के लिए उनको राजस्थान की ओर जाना पड़ा था। उन्होंने अपनी स्नातक की डिग्री राजस्थान से हासिल की है और उसके बाद सीधा यूपीएससी की तैयारी शुरू कर दी। उन्होंने यूपीएससी की परीक्षा पहली बार 2012 में दी थी लेकिन उनके हाथ असफलता लगी। इसके बाद उन्होंने हार ना मानते हुए अपनी दूसरी परीक्षा में आईआरएस पद हासिल कर लिया। इसके बाद उन्होंने तीसरा और चौथा प्रयास दिया जहां उनको फिर से असफलता का सामना करना पड़ा। हालांकि, वह एक के बाद एक परीक्षा देते गए क्योंकि उन्हें आईएएस अधिकारी बनना था।

आखिरी परीक्षा उन्होंने 2017 में दी थी, इस परीक्षा में उनकी रैंक 1 आई और पहले नंबर पर आने के बाद वह आईएएस अधिकारी बन गए। उन्होंने यूपीएससी की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए सलाह दी है कि वह ज्यादा से ज्यादा ध्यान अपनी पढ़ाई में लगाएं और जितनी भी मुश्किलें आएं, सब का डटकर सामना करें। अगर, आप कहीं नौकरी भी कर रहे हैं तो उसके साथ तैयारी करना असंभव नहीं है। शनिवार और इतवार को अपनी पढ़ाई जोर-शोर से करें, आपको सफलता ज़रूर मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.