युवा वकील ने जज साहिबा को आधी रात में Wish किया हैप्पी बर्थडे, पहुंच गया जेल और मामला हाईकोर्ट में

HAPPY BIRTHDAY BOLNE PE

न्यूज डेस्क : अगर आप भी किसी को जन्मदिन की बधाई दे रहे हों तो सचेत हो जाइए , और यह पूरी खबर पढ़ लीजिए । एक वकील को जन्मदिन की बधाई देना उस वक्त महंगा पर गया जब पुलिस ने उसे उठाकर जेल भेज दिया। दरअसल बात यह है कि मध्य प्रदेश के रतलाम का एक वकील कई दिनों से जेल में बंद है। क्योंकि उसने महिला जज को आधी रात जन्मदिन की बधाई दे दी थी।

फिर क्या था गुस्साये जज साहिबा ने स्थानीय थाना में वकील पर आईटी एक्ट समेत अन्य धाराओं में मामला दर्ज करवा दिया। जिसके बाद पुलिस ने उस वकील को गिरफ्तार भी कर लिया। जिसके बाद उक्त वकील ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट प्रथम के कोर्ट से लेकर सेशन कोर्ट तक जमानत याचिका फाइल कर चुका है। लेकिन कहीं से उसे कोई राहत नहीं मिली पा रही है। जमानत का यह मामला मामला अब हाई कोर्ट पहुंच गया है।

सरकारी मेल पर दिया महिला जज को जन्मदिन की बधाई यह मामला देशभर के युवा वकीलों के लिए उदाहरण के तौर पर भी देखा जाएगा। जिससे आने बाले दिनों में जज साहिबा को बर्थडे विश करने से पहले विश करने के तरीके और समय पर सौ बार सोचने को मजबूर कर देगा। मध्यप्रदेश के रतलाम की इस घटना से देश के अधिवक्ता में यह हाईवोल्टेज चर्चा की विषय बन गया है। वकील ने न्यायाधीश के सरकारी मेल पर बधाई संदेश पोस्ट किया था।

रतलाम डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में पदस्थ महिला जज का जन्मदिन जनवरी में था। वकील विजय ने रात 1 बजकर 11 मिनट पर जज साहिबा के ऑफिशियल मेल पर हैप्पी बर्थडे का मैसेज सेंड किया । वकील ने जज के फेसबुक अकाउंट से एक फोटो डाउनलोड किया और उसे ग्रीटिंग कार्ड के रूप में उनको भेज दिया। वकील विजय द्वारा इस तरीके से बर्थडे विश करना महिला जज को नागवार गुजर गया । उन्होंने वकील की  शिकायत रतलाम पुलिस थाने में कर दी । फिर क्या था आईटी एक्ट में विगत 9 फरबरी को पुलिस ने वकील को पकड़ कर जेल पहुंचा दिया ।

सीनियर वकील ने भी किया वकील से किनारा बताते चलें कि वकील विजय के कारनामे से रतलाम के सीनियर वकीलों ने किनारा किया हुआ है। सीनियर वकीलों ने बताया कि विजय अभी जूनियर वकील है, उसकी इस हरकत से वकीलों के मान सम्मान को हानि पहुंची है। वह अभी एक और परीक्षा पास करेगा उसके बाद वह एशोसिएशन की सदस्यता ले पायेगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *